top of page

पंच तत्व और राशि

आनन्द ज्योतिष ज्ञान गंगा

Dr Anand Pradikshit presents

पंचतत्वों के आधार पर राशि

जल राशि, अग्नि राशि, वायु राशि और पृथ्वी राशि होती हैं।


जल राशि: यदि आपकी राशि कर्क, वृश्चिक या मीन में से कोई एक है तो वह आपकी जल तत्व की राशि होगी। जल राशि के जातक भावनात्मक एवं संवेदनशील होते हैं,पकड़ कर रखने वाले। इनकी स्मृति शक्ति तीक्ष्ण होती है और अपने प्रियजनों के लिए की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं।सुंदर और मोहक।


अग्नि राशि: यदि आपकी राशि मेष, सिंह अथवा धनु है तो यह आपकी अग्नि तत्व की राशि होगी। इस राशि के जातक क्रुद्ध भावुक, गतिशील और मनमौजी होते हैं और इन्हें जल्दी ही ग़ुस्सा आ जाता है। अग्नि राशि के जातक साहसी, ऊर्जावान और आदर्शवादी होते हैं।प्रेम में एडवेंचर पसंद।


वायु राशि: यदि आपकी राशि मिथुन, तुला या कुंभ है तो यह आपकी वायु तत्व की राशि होगी। इस राशि के जातक बुद्धिजीवी, मिलनसार, विचारक, और विश्लेषक होते हैं। न्यायाधीश राशि।वायु राशि के जातकों को पुस्तक पढ़ने में आनंद आता है।


पृथ्वी राशि: यदि आपकी राशि वृषभ, कन्या या मकर है तो यह आपकी पृथ्वी तत्व की राशि होगी। पृथ्वी राशि के जातक ज़मीन से जुड़े हुए, व्यवहारिक और विश्वास योग्य होते हैं। इस राशि ते जातकों को भौतिक चीज़ों से लगाव होता है।


जिज्ञासा समाधान

चंद्र एवं सूर्य राशि क्या होती है?

वैदिक ज्योतिष में राशिफल की गणना चंद्र राशि के आधार पर होती है। हमारे जन्म के समय जब चंद्रमा आकाश मंडल में जिस राशि में उदित होता है, वह राशि हमारी चंद्र राशि कहलाती है। जबकि पाश्चात्य ज्योतिष विद्या में सूर्य आधारित राशि को महत्वपूर्ण माना जाता है। इसमें जन्म के समय जब सूर्य जिस राशि में स्थित होता है तो वह आपकी सूर्य राशि होती है।


नाम राशि क्या होती है?

आपकी राशि यदि नाम के पहले अक्षर के आधार पर है तो यह आपकी नाम राशि कहलाएगी। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आपके नाम का पहला अक्षर आपके व्यक्तित्व के कई राज़ उजागर करता है। यह आपके स्वभाव, चरित्र, पसंद-नापसंद, हाव-भाव आदि के बारे में बहुत कुछ बताता है।


नाम का पहला अक्षर नाम राशि

चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ मेष

ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो वृषभ

का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह मिथुन

ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो कर्क

मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे सिंह

ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो vकन्या

रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते तुला

तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू वृश्चिक

ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे धनु

भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी मकर

गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा कुंभ

दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची मीन

वैदिक ज्योतिष में जन्म कुंडली में स्थित 12 राशि, 12 भाव और 27 नक्षत्र की स्थिति और गणना से व्यक्ति का राशिफल या भविष्यफल तैयार होता है और इसी राशिफल से लोगों के जीवन के महत्वपूर्ण बिंदुओं को जाना जाता है। नेट ज्ञान


127 views0 comments

Recent Posts

See All

सिंह सूर्य राशि 23 जुलाई से 22 अगस्त तक के जन्मे जातक 2021 वर्षफल अनुमान यह वर्ष आपके लिए अत्यधिक शुभ साबित होगा। करियर में अचानक प्रगति देखने को मिलेगी पर ढेरों चुनौतिया भी। एक से अधिक स्रोतों से कम

bottom of page