top of page

समाचार 28.5.21 जागरण जोश से साभार

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से माउंट न्यारागोंगो ज्वालामुखी और कोरोना वायरस आदि शामिल हैं. इन ड्रोन का इस्तेमाल पूर्वी लद्दाख और चीन की सीमा के साथ अन्य क्षेत्रों में दुश्मन की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने के लिए किया जाएगा. भारतीय सेना को पूर्वी लद्दाख और अन्य क्षेत्रों में तैनाती के लिए जल्द ही चार इजरायली ड्रोन मिलने जा रहे हैं. हालांकि, कोरोना महामारी की वजह से ड्रोन की डिलीवरी में देरी हुई है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, केंद्र सरकार ने चीन से जारी विवाद के बीच 500 करोड़ रुपये का इमरजेंसी फंड जारी किया था. इन ड्रोन की खरीद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की तरफ से दिए गए आपात वित्तीय अधिकार के तहत की गई है. फाइजर ने अपनी वैक्सीन के बारे में बताते हुए कहा कि उनका ये टीका 12 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों को दिया जा सकता है. इसके साथ ही इसे स्टोर करना भी आसान है. इसे एक महीने के लिए 2-8 डिग्री के तापमान में रखा जा सकता है. इतना ही नही कंपनी का कहना ये भी है कि फाइजर भारत में फैले कोरोना स्ट्रेन पर काफी प्रभावी है.



फाइजर ने अमेरिका सहित 116 देशों से क्षतिपूर्ति के करार किये हैं. दुनियाभर में फाइजर टीके की अब तक 14.7 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं. देश में इस समय दो वैक्सीन भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड लोगों को दी जा रही है. सरकार ने स्पुतनिक V को भी मंजूरी दी है. लगभग दो दशकों के बाद कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में माउंट न्यारागोंगो ज्वालामुखी फट गया, जिससे हजारों लोगों को अपने घरों से पलायन करना पड़ा. इस लावे ने गोमा शहर के बाहरी इलाके में 500 से अधिक घरों को नष्ट कर दिया लेकिन गामा शहर को बड़े पैमाने पर बचा लिया गया है. रवांडा के आपातकालीन प्रबंधन मंत्रालय के अनुसार, विस्फोट के बाद कम से कम 8,000 लोगों ने सीमा पार कर उनके देश में प्रवेश किया है. अन्य 25,000 ने कथित तौर पर सेंक में उत्तर-पश्चिम में शरण ली है. कांगो के अधिकारियों ने कोई निकासी आदेश जारी नहीं दिया था. विशेषज्ञ कोरोना मरीजों की अचानक बिगड़ती तबियत के पीछे हैप्पी हाइपोक्सिया को मान रहे हैं. सामान्य कोरोना मरीजों में ये लक्षण ज्यादा हैं और बुखार, खांसी नहीं होने की वजह से जब तब आक्सीजन का स्तर कम होता है, तब तक हालत ज्यादा ही बिगड़ जाती है. हैप्पी हाइपोक्सिया के लक्षण सामने नहीं आते हैं इसलिए सावधान रहें. शरीर में, रंग में बदलाव होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. ऑक्सीमीटर से सेचुरेशन लेवल चेक करें और डॉक्टर से संपर्क करें. इस बीमारी को साइलेंट किलर कहा गया है क्योंकि इसमें ऑक्सीजन सेचुरेशन लेवल कम हो जाता है और एकदम से उसकी मृत्यु हो जाती है. अफेयर्स एक पंक्ति को नए रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है, इसमें वित्त मंत्रालय और कोरोना वायरस आदि को सम्मलित किया गया है. • वह राज्य जिसके राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्या ने ‘संपत्ति क्षति-वसूली विधेयक-2021’ को मज़ूरी दे दी है- हरियाणा • केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अनुसार, सरकार जितने देशों में अपने उच्चायोगों/दूतावासों में ‘वन स्टॉप सेंटर’ खोलेगी-9 • भारत और जिस देश ने दो प्रमुख रक्षा समझौतों का नवीनीकरण किया है जो समुद्री सुरक्षा और सैन्य सहयोग को बढ़ावा देने पर केंद्रित हैं- ओमान • जिस मंत्रालय ने हाल ही में प्रदर्शनी और सम्मेलन केंद्रों के लिए बुनियादी ढांचे का दर्जा दिया है- वित्त मंत्रालय



• अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने जिस भारतवंशी को वाणिज्य विभाग के डीजी के तौर पर नियुक्त किया है- अरुण वेंकटरमन • अनातोले कोलिनेट माकोसो को जिस देश का नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया है- कांगो • 180 ऑस्कर जीत चुके 97 वर्ष पुराने हॉलीवुड स्टूडियो एमजीएम को जिस कंपनी ने 8.45 अरब डॉलर में खरीद लिया है- अमेज़न • खेल मंत्रालय ने जमीनी स्तर पर प्रतिभाओं को निखारने के लिए जितने राज्यों में कुल 143 खेलो इंडिया केंद्र खोलने का फैसला किया है- सात

🛑प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और कोविड वैक्‍सीन से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भारतीय-अमेरिकी नागरिक अरुण वेंकटरमन को अमेरिका और विदेश वाणिज्यिक सेवा के महानिदेशक के रूप में नियुक्त किया है. अरुण वेंकटरमन अभी वाणिज्य सचिव के सलाहकार हैं. व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान के अनुसार, वेंकटरमण को कंपनियों को, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और अंतरराष्ट्रीय व्यापार के मुद्दों पर अमेरिकी सरकार को सलाह देने का 20 साल से ज्यादा का अनुभव हासिल है. अमेजन और एमजीएम ने 26 मई को एक निर्णायक विलय समझौता करने की घोषणा की. इसके तहत अमेजन 8.45 अरब डॉलर में एमजीएम का अधिग्रहण करेगी.



एमजीएम स्टूडियोज की स्थापना मारकस लोए और लुईस बी मेयर ने 17 अप्रैल 1924 को की थी. अमेजन ने कहा कि वह एमजीएम की प्रतिभाशाली टीम के साथ स्टूडियो की व्यापक सूची में से कहानियों की नए सिरे से कल्पना और विकास करेगी. खेल मंत्रालय ने जमीनी स्तर पर प्रतिभाओं को निखारने के लिए सात राज्यों में कुल 143 खेलो इंडिया केंद्र खोलने का फैसला किया है. इस पर कुल 14.30 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. इन केंद्रों को महाराष्ट्र, मिजोरम, गोवा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश और मणिपुर में स्थापित किया जाएगा. प्रत्येक केंद्र में किसी एक खेल की सुविधा उपलब्ध होगी. हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्या ने ‘संपत्ति क्षति-वसूली विधेयक-2021’ को मज़ूरी दे दी है जिसके बाद यह कानून बन गया है. इस कानून के तहत सरकार के पास किसी भी प्रदर्शन के दौरान सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों से नुकसान का हर्जाना वसूलने का अधिकार होगा. यह विधेयक 18 मार्च 2021 को हरियाणा विधानसभा में पारित हुआ था. ओडिशा और पश्चिम बंगाल में 130-145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाओं के साथ समुद्र तटों से टकराने के बाद 26 मई की दोपहर बाद भीषण चक्रवाती तूफान ‘यास’ कमजोर पड़ गया. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 26 मई 2021 को बताया कि चक्रवात ‘यास’ के कारण मौसम संबंधी प्रतिकूल परिस्थितियों की वजह से राज्य में कम से कम एक करोड़ लोग प्रभावित हुए और तीन लाख मकान क्षतिग्रस्त हुए. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों को सचेत किया कि तूफान के कारण समुद्र में ऊंची लहरें उठती रहेंगी. उन्होंने दावा किया कि बंगाल चक्रवात से सबसे अधिक प्रभावित हुआ है. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओडिशा और पश्चिम बंगाल में चक्रवात के प्रभाव की जानकारी के लिए 28 मई को दोनों राज्यों का दौरा करेंगे. 🛑अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने 26 मई 2021 को अमेरिकी खुफिया एजेंसियों से कोविड-19 (Coronavirus) महामारी की उत्पत्ति की जांच के अपने प्रयासों को 'दोगुना' करने के लिए कहा. राष्ट्रपति जो बाइडन ने एजेंसियों को कहा है कि 90 दिन के भीतर पता करें कि आखिर इस कोरोना वायरस का जन्मस्थान कहां है. इसका पता करके रिपोर्ट दें. राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि यह निष्कर्ष निकालने के अपर्याप्त साक्ष्य हैं कि क्या यह किसी संक्रमित जानवर के मानवीय संपर्क से उभरा है या एक लैब दुर्घटना ने इस महामारी को जन्म दिया है. उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं को जांचकर्ताओं की मदद करने का निर्देश दिया और चीन से अंतरराष्ट्रीय जांचों में सहयोग करने की अपील की है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अमेरिकी खुफिया विभाग को स्पष्ट निर्देश दे दिया है कि वह 90 दिनों के अंदर यह पता लगाएं कि आखिर कोरोना वायरस की उत्पत्ति कहां से या कैसे हुई है. उन्होंने अपने आदेश में कहा है कि खुफिया विभाग 90 दिनों के अंदर यह पता लगाएं कि क्या कोरोना वायरस चीन द्वारा जानबूझकर फैलाया गया है या चीन के लेबोरेटरी में अनजाने में इसकी उत्पत्ति हुई है. कोविड-19 का सबसे पहला केस दिसंबर 2019 में चीन के वुहान शहर में दर्ज किया गया था. चीनी प्रशासन ने शुरुआती मामलों का संबंध वुहान की एक सीफ़ूड मार्केट से पाया था. वैज्ञानिकों का मानना है कि यह वायरस जानवरों से इंसानों में पहुँचा है. इस वायरस के कारण फैली महामारी के कारण दुनिया भर में अब तक कम से कम 35 लाख लोगों की जान जा चुकी है और संक्रमण के 16 करोड़ 80 लाख से ज़्यादा मामले दर्ज किए जा चुके हैं.



राष्ट्रपति बाइडन ने कहा कि अमेरिका की इंटेलिजेंस एजेंसियां दो संभावनाओं के क़रीब पहुँची हैं मगर किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुँच पाई हैं. अभी हालत ये है कि इंटेलिजेंस कम्यूनिटी के दो हिस्सों का मानना है कि यह जानवर से इंसानों में आया जबकि एक हिस्से का मानना है कि लैब से फैला. लेकिन कोई भी अपनी बात को पूरे यक़ीन से नहीं कह रहा. ज़्यादातर का मानना है कि किसी नतीजे पर पहुँचने के लिए पर्याप्त सूचनाएं नहीं हैं.

20 views0 comments

Recent Posts

See All
bottom of page