top of page

हिंदी समसामयिकी 1-14 April 21

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 14 अप्रैल 2021 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से नागरिक उड्डयन मंत्रालय और कोरोना वायरस आदि शामिल हैं. भारत के नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने ट्विटर पर यह खबर साझा करते हुए कहा कि, देश ने श्रीलंका के साथ एयर बबल समझौते को अंतिम रूप दिया है, जिससे दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन - सार्क क्षेत्र में यह 6 वीं और कुल मिलाकर 28वीं व्यवस्था है. श्रीलंका के साथ इस नवीनतम व्यवस्था के साथ, अब तक दुनिया भर के 28 देशों के साथ भारत ने ये समझौते कर लिए हैं. इसमें बहरीन, कनाडा, अफगानिस्तान, जर्मनी, फ्रांस, जापान, इराक, नाइजीरिया, मालदीव, ब्रिटेन, कतर, संयुक्त अरब अमीरात और अमेरिका शामिल हैं. विश्वभर में कोरोना वायरस से हाल बुरा हो चला है. कोरोना संक्रमण के मामले भी पहले के मुकाबले बेहद कम हो गए थे. लेकिन अब कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने जोर पकड़ लिया है और तेजी से देश में इसका प्रकोप बढ़ता नजर आ रहा है.



सोनू सूद कोविड टीकाकरण मुहिम के लिए पंजाब सरकार (Punjab Government) के ब्रांड एंबेस्डर (Brand Ambassador) बनाए गए हैं. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 11 अप्रैल को सोनू सूद के साथ मीटिंग के बाद यह घोषणा किया कि वह कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम में पंजाब सरकार के ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किए गए हैं. आरसीईपी चीन की अगुवाई में किया गया विश्व का सबसे बड़ा मुक्त व्यापार समझौता है लेकिन भारत ने इस समझौते को स्वीकार नहीं किया. विशेषज्ञों का कहना था कि यह माना जा रहा था कि यह बड़े उपभोक्ता आधार के साथ एक अहम बाजार होगा और इसमें निर्यात की भी अच्छी संभावनायें होंगी. क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी देश विश्व की एक-तिहाई आबादी और वैश्विक जीडीपी के 30 प्रतिशत हिस्से (लगभग 26 ट्रिलियन से अधिक) का प्रतिनिधित्व करते हैं. आरसीईपी की अवधारणा नवंबर 2011 में आयोजित 11 वें आसियान शिखर सम्मेलन के दौरान प्रस्तुत की गई और नवंबर 2012 में कंबोडिया में आयोजित 12वें आसियान शिखर सम्मेलन के दौरान इस समझौते की प्रारंभिक वार्ताओं की शुरुआत की गई. सुशील चंद्रा के नेतृत्व में आने वाले समय में देश में गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड, पंजाब और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. जाहिर है कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तरप्रदेश सहित इन सभी राज्यों में चुनाव बेहतर ढंग संपंन करना उनके सामने चुनौती रहेगी. आमतौर पर निर्वाचन आयोग में सबसे वरिष्ठ आयुक्त को मुख्य चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्त किए जाने की परंपरा हैं. सुशील चंद्रा की नियुक्ति भी इसी परंपरा के अनुरूप की गई है. निर्वाचन आयोग में कार्यभार संभालने से पूर्व सुशील चंद्रा केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के अध्यक्ष रह चुके हैं.

2 नाइजर के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति मोहम्मद बज़ौम ने 03 अप्रैल, 2021 को ओहुयमौयडो महामडो को देश का नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया है. राष्ट्रपति के आधिकारिक बयान के अनुसार, ओहुयमौयडो महामडो, जो कर्मचारियों के पूर्व प्रमुख रह चुके हैं, को नई सरकार बनाने का निर्देश दिया गया है. ओहुयमौयडो महामडो वर्ष, 2015 और वर्ष, 2021 के बीच पूर्व नाइजीरियाई राष्ट्रपति महामडो इस्सौफौ के प्रमुख थे. वे पहले भी नाइजर के वित्त मंत्री और खानों और ऊर्जा मंत्री के तौर पर कार्य कर चुके हैं. • एक लोकतांत्रिक कायाकल्प में, मोहम्मद बज़ौम को, नाइजर के विपक्ष के देशव्यापी विरोध के बावजूद मार्च माह में संवैधानिक अदालत ने फरवरी, 2021 में नाइजर के आम चुनावों के विजेता के तौर पर पुष्टि की थी. • एक असफल तख्तापलट की कोशिश के दो दिन बाद और इस देश की सीमाओं पर सशस्त्र समूहों द्वारा बढ़ते हमले के बावजूद, नए राष्ट्रपति का उद्घाटन (पद ग्रहण) समारोह 02 अप्रैल, 2021 को हुआ. • हिंसा की धमकी के बावजूद, इस समारोह में चाड, टोगो, मॉरिटानिया, कोटे डी'वायर, सेनेगल, माली, गाम्बिया और बुर्किना फासो के नेता उपस्थित हुए. • देश के अधिकांश गैर-रेगिस्तानी भागों में आवधिक सूखे और मरुस्थलीकरण का खतरा है. • इस देश की अर्थव्यवस्था काफी हद तक निर्वाह कृषि पर केंद्रित है, कुछ उपजाऊ दक्षिणी क्षेत्र में निर्यात कृषि की जाती है और यह देश यूरेनियम अयस्क जैसे कच्चे माल का निर्यात भी करता है. • इसकी गंभीर चुनौतियों में इसकी भूमि की स्थिति, रेगिस्तानी इलाके और अकुशल कृषि शामिल हैं.



आजादी के बाद, नाइजर के लोग पांच संविधानों और तीन बार सैन्य शासन में रहे हैं. वर्ष, 2010 में सैन्य तख्तापलट के बाद, नाइजर एक लोकतांत्रिक, बहुदलीय राज्य बन गया है.

3

संयुक्त अरब अमीरात ने 10 अप्रैल, 2021 को देश के अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिए अगले दो अंतरिक्ष यात्रियों के नामों की घोषणा की है. इसमें देश की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री, नौरा अल-मतरोशी भी शामिल है. दुबई के शासक, शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, जो स्वेच्छापूर्वक शासित देश के उप-राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के तौर पर भी काम करते हैं, ने ट्विटर पर दो अंतरिक्ष यात्रियों के नामों की घोषणा की. अल-मकतूम ने पुरुष समकक्ष, मोहम्मद अल-मुल्ला के साथ UAE की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री के तौर पर नोरा अल-मतरोशी की पहचान की. इन दोनों भावी अंतरिक्ष यात्रियों का टेक्सास के ह्यूस्टन में नासा के जॉनसन स्पेस सेंटर में प्रशिक्षण चल रहा है.



मेजर हज्जा अल-मंसूरी अंतरिक्ष में UAE के पहले अंतरिक्ष यात्री बन गये थे. वे अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर आठ-दिवसीय मिशन में शामिल हुए थे. UAE सरकार द्वारा एक प्रचार वीडियो में, वर्ष, 1993 में पैदा हुई अल-मतरोशी का परिचय अबू-धाबी स्थित राष्ट्रीय पेट्रोलियम निर्माण कंपनी में एक इंजीनियर के तौर पर दिया है. UAE सरकार के अनुसार, अगर वे इस मिशन पर जा सकीं, तो अल-मतरोशी अंतरिक्ष में जाने वाली पहली अरब महिला बन सकती हैं. अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिए उनके पुरुष समकक्ष, मोहम्मद अल-मुल्ला का जन्म वर्ष, 1988 में हुआ था. वे दुबई पुलिस में पायलट के तौर पर कार्य करते हैं और वहां प्रशिक्षण प्रभाग के प्रमुख भी हैं. संयुक्त अरब अमीरात में 4,000 से अधिक आवेदकों के बीच से इन दोनों अंतरिक्ष यात्रियों का चयन किया गया था. एक ईरानी-अमेरिकी दूरसंचार उद्यमी और डलास की करोड़पति, अनुशेह रायस्यान अंतरिक्ष में जाने वाली पहली ईरानी महिला होने के साथ-साथ पहली मुस्लिम महिला भी बन गई थीं. उन्होंने वर्ष, 2006 में एक स्व-वित्त पोषित नागरिक के तौर पर अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन - ISS की यात्रा की थी और एक पर्यटक के तौर पर यात्रा करने के लिए कथित तौर पर 20 मिलियन अमेरिकी डॉलर का भुगतान किया था. अंतरिक्ष में जाने वाले पहले मुस्लिम यात्री सऊदी राजकुमार सुल्तान बिन सलमान थे. वे वर्ष, 1985 में शटल डिस्कवरी के चालक दल में शामिल हुए थे. संयुक्त अरब अमीरात को अपने अंतरिक्ष कार्यक्रम में हाल की अन्य सफलताएं मिली हैं. फरवरी, 2021 में देश ने अपने अमल या होप सैटेलाइट को मंगल ग्रह के चारों ओर की कक्षा में भेजा था, जिससे यह ऐसा करने वाला अरब दुनिया का पहला देश बन गया था. वर्ष, 2024 में UAE ने चंद्रमा पर एक मानव रहित अंतरिक्ष यान भेजने की उम्मीद जताई है. इस देश ने वर्ष, 2117 तक मंगल ग्रह पर मानव कॉलोनी बनाने के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को भी निर्धारित किया है.

जागरण जोश से साभार


84 views0 comments

Recent Posts

See All
bottom of page